इस वज़ह से दिन में भी जलती रहती है गाड़ियों की लाइट

केन्द्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने भारत में सड़क दुर्घटनाएं 2016 नामक एक रिपोर्ट जारी की थी, जिसमें दावा किया गया था कि साल 2015 में भारत में 5,01,423 सड़क दुर्घटनाएं हुई थी, जबकि 2016 में देश में सड़क दुर्घटनाओं में करीब 4.1 फीसदी की कमी आई। हालांकि ये आंकड़ा अभी भी बहुत ज्यादा है, सरकार लगातार लोगों को जागरुक करने की कोशिश कर रही है, ताकि सड़क दुर्घटनाओं को मामलों को कम किया जा सके। Why Does Lights Of New Bikes Are Always On

सडक़ पर चलते हुए अक्सर आपने किसी बाईक की ओर लाईट बंद करने का इशारा जरूर किया होगा, लेकिन अब आज कल आप देखते होंगे की जो नई गाड़ियां आ रही है उनकी हैडलाइट दिन में भी जलती रहती है। और कंपनियों ने सरकार क आदेश के बाद गाड़ियों में लाईट को ऑन-ऑफ करने का स्वीच ही लगाना बंद कर दिया है। आप ये जरूर सोचते होंगे की अब गाड़ियों की हेडलाइट दिन में भी क्यों जलती रहती है और ऐसा करने के पीछे क्या वजह है। यूरोपीय देशों की तर्ज़ पर भारत सरकार भी दिन के उजाले में भी बाइक की हेडलाइट जलाकर ही चलने का नया नियम बना दिया है

तो आपको बता दे की ऐसा सरकार ने देश में बढ़ाती हुई दुर्घटनाओं को रोकने के लिए किया है। पुरानी BS-3 गाडियों में तकनीक को लेकर कुछ कमियां थी और इसी वजह से सभी तरह की BS-3 को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। और वही नई तकनीक से बनाई गयी BS-4 कई नए नए फीचर्स जोड़े गए है और उन्ही में से एक है लाइट का बंद न होना, BS-4 गाड़ियों की लाइट हर समय जलती रहती है मतलब जब गाड़ी चालू रहगी लाइट जलती रहेगी। हमारे देश में सडक़ दुर्घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही थी और ऐसे में ही कई नए कानून लागू किए गए है।

कई बार धूंध, कोहरे या कम रोशनी में गाड़ी की लाईट बंद होने की वजह से कई हादसे हो जाते थे और ऐसे में उन हादसों को रोकने के लिए यह फैसला लिया गया है। आपको बता दे की कई यूरोपीय और पश्चिमी देशों में ये कानून पहले से ही लागू है। तो अबसे अगर आपको कोई सड़क पर से चलते किसी गाड़ी की लाइट बंद दिखे तो उसे लाइट जलने का इशारा करे।

तो अब आपको अच्छे से समझ आ गया होगा की भारत में अब गाड़ियों की लाइट हर समय क्यों जलती रहती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *