पसीने के कारण जिन लोगों के कपड़ों में सफ़ेद दाग लग जाते हैं वे इस खबर को जरूर पढ़ें

गर्मियों के दिनों में पसीना निकलना सबसे ज्यादा आम होता है । ज्यादा धूप के कारण शरीर में स्थित द्रव पसीने के माध्यम से बाहर निकलने लगता है । आपने देखा होगा कि जब भी पसीना आता है तो उसके बाद कपड़ों में सफेद रंग के कुछ दाग छूट जाते हैं । पसीने में कुछ मात्रा में नमक उपस्थित होता है । जिसके कारण पसीना सूखने के बाद यह सफेद रंग के दाग कपड़ों में छूट जाते हैं । पसीना आने का मुख्य कारण ये है की जो गर्मियों की चिलचिलाती धुप में शरीर का पानी पसीने के रूप में बाहर निकल आता है। ऐसा होना शरीर की एक प्राकृतिक है जिससे शरीर खुद को बाहरी तापमान के मुताबिक खुद को ढालता है।

लेकिन आपने गौर किया होगा की पसीना Sweat आने पर कपडे गीले हो जाते है और जब पसीने के निशान सूखते है तो कपड़ों पर सफ़ेद निशान रह जाते है। ये सफ़ेद निशान शरीर में मौजूद नमक की वजह से बनते है जो पसीने के साथ शरीर से बाहर आ जाता है।

पसीना (Sweat) आने के फायदे :

• शरीर से पसीना और सफेद दागों के लगने का मतलब होता है कि शरीर से जहरीले तत्व बाहर निकल रहे हैं । इसके कारण शरीर अस्वस्थ होने से बचा रहता है ।

• शरीर में नमक की मात्रा बढ़ने पर शरीर का वजन बढ़ने लगता है और हड्डियां कमजोर हो जाती हैं । लेकिन जब पसीने के माध्यम से यह नमक बाहर निकल जाता है तो मोटापा होने के चांस बहुत कम हो जाते हैं ।

• पसीना आना सेहत के लिए अच्छा माना जाता है। शरीर से जितना पसीना निकलता है उतना ही त्वचा से हानिकारक कण भी भी बाहर निकल आते है। हमारे शरीर में कुछ तत्व ऎसे भी होते हैं जो बाहर निकलने अवश्यक होते हैं जो पसीने के साथ रोम छिद्र से बाहर निकल आते हैं इसके कारण शरीर बीमार होने से बचा रहता है।

• ये नमक आपका वजन तो बढ़ाता ही है साथ ही रक्त चाप यानी ब्लड प्रेशर जैसी बिमारियों की तरफ भी संकेत देता है। इसलिए अगर पसीना आये और ऐसे नमक के निशान बने तो चिंता की बात यही है बल्कि ये इस बात का संकेत है की आपको मोटापा होने के चांस बहुत कम हो जाते हैं और ब्लड प्रेशर की समस्या भी टल जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *