नवरात्रि में न करें ये काम, बनना पड़ सकता है मां दुर्गा के क्रोध का भागी!

हिंदू धर्म में नवरात्र का विशेष महत्व है. साल में दो बार मनाए जाने वाले इस पर्व में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है. साल में पहले चैत्र नवरात्रि तो दूसरा शारदीय नवरात्रि का पर्व आता है. 9 दिनों तक चलने वाले इस पर्व में कई शुभ कार्य किए जाते हैं. पूरे भारत में नवरात्रि के नौ दिन धूम-धाम से मनाए जाते हैं और माता दुर्गा की पूजा की जाती है. नौ दिन मां दुर्गा के अलग-अलग रूपों की पूजा करने और व्रत रखने का विधान होता है.

मान्यता है कि इन नौ दिनों में माता की पूजा अर्चना करने से सुख, शांति, यश, वैभव और मान-सम्मान हासिल होता है. 9 दिनों की पूजा के बाद 9 कन्याओं की पूजा का भी विशेष महत्व होता है. वहीं अगर 9 दिनों तक व्रत नहीं रख सकते तो पहले दिन और अष्टमी के दिन भी व्रत रखा जा सकता है. इससे भी मां दुर्गा को प्रसन्न किया जा सकता है.

नवरात्रि के पहले दिन कई लोग घर में कलश स्थापित करते हैं लेकिन इन नौ दिनों तक भक्त को कुछ नियमों का पालन करता होता है. व्रती को नवरात्रि के दौरान कुछ काम भूलकर भी नहीं करने चाहिए नहीं तो उसे मां दुर्गा के क्रोध का भागी बनना पड़ेगा. आइए जानते हैं इन कामों के बारे में….

शारीरिक संबंध नहीं बनाएं

नवरात्रि के नौ दिनों में माता की पूजा करनी चाहिए. ऐसे में इन नौ दिनों में व्रत के दौरान शारीरिक संबंध नहीं बनाने चाहिए. ऐसा करने से व्रत का फल नहीं मिलता है.

पीरियड्स में पूजा

हो सकता है कि नवरात्रि में महिलाओं को पीरियड्स हो रहे हों. ऐसे में महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान पूजन नहीं करना चाहिए.

नॉनवेज न खाएं

नवरात्रि के दिनों में अपने खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए. इन दिनों में अपने घर में शुद्ध खाना बनाना चाहिए. वहीं नवरात्रि के नौ दिनों तक सात्विक भोजन ही करना चाहिए. इस दौरान लहसून, प्याज नहीं खाना चाहिए. साथ ही नॉनवेज का सेवन भी नहीं करना चाहिए. इसके अलावा खाने में अनाज और नमक का सेवन नहीं करना चाहिए.

चमड़े से बनी चीजें न पहने

नवरात्रि के दिनों में आप क्या पहन रहे हैं यह भी मायने रखता है. नवरात्रि के दौरान बेल्ट या फिर चमड़े से बनी चीजें नहीं पहननी चाहिए. अगर आप के जूते-चप्पल भी चमड़े के बने हैं तो उन्हें नहीं पहनना चाहिए.

बाल न कटवाएं

नवरात्रि में अपने शरीर का विशेष ध्यान रखना चाहिए. वहीं नवरात्रि में व्रत रखने वालों को नौ दिनों तक दाढ़ी-मूंछ, नाखून और बाल नहीं काटने चाहिए.

घर को न छोड़े खाली

नवरात्रि के दिनों में अपने घर में ताला लगाकर बाहर नहीं जाना चाहिए. जो लोग नवरात्रि में घर में कलश स्थापित करते हैं और अखंड दीप प्रज्वलित करते हैं, उन्हें नौ दिनों तक घर खाली नहीं छोड़ना चाहिए. घर में कम से कम परिवार का एक सदस्य जरूर रहना चाहिए.

कपड़े

नवरात्रि में कपड़ों पर भी खास ध्यान देने की जरूरत होती है. नवरात्रि में काले रंग के कपड़े नहीं पहनने चाहिए. जहां तक हो सके तो काले रंग के कपड़े पहनने से परहेज करना चाहिए.

दिन में न सोएं

अगर आपने नवरात्र में व्रत रखा है तो इस बात का भी ध्यान रखें की नवरात्र के दौरान दिन के वक्त नींद नहीं लेनी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *