सुबह खाली पेट बिना ब्रश किये पानी पीने के फायदे जान चौंक जाएंगे आप।

बहुत कम लोग जानते हैं कि सुबह-सुबह बासी मुंह पानी पीने से जो फायदा होता है वह ब्रश करने के बाद पानी पीने से नहीं होता सुबह सुबह उठकर हमेशा हमें बासी मुंह पानी पीना चाहिए उसके साथ जो लार हमारे शरीर में जाती है उसका फायदा ऐसा है जिसके बारे में जानकर आप भी आश्चर्यचकित रह जाओगे हम हमेशा से ही अपने पाठकों के लिए अच्छे अच्छे पोस्ट लेकर आते हैं जिनमें रोचक जानकारी दीजिए ही होती है और हमारा शुरू से ही यही रहता है कि हमारे पाठकों के लिए वह जानकारी किसी न किसी तरह उनके काम आए

पानी हमारे जीवन के लिए बहुत जरुरी है, लेकिन क्या आपको यह पता है कि रोजाना सुबह बासी मुंह पानी पीने से जो हमारे मुंह में लार होती है वो पेट में जाकर कई रोगों से बचाता है। आपको बता दें कि लार मुंह में बनने वाला एक ऐसा तरल है, जो एंटीसेप्टिक की तरह काम कर कई रोगों से बचाता है। आपको बता दें कि 98 प्रतिशत मानव लार 98 फीसदी पानी से बनी होती है, जबकि इसके शेष 2 प्रतिशत भाग में एंजाइम, बलगम, इलेक्ट्रोलाइट और जीवाणुरोधी यौगिक जैसे तत्त्व मौजूद होते हैं। लार से कई फायदे होते हैं।

लार से कई रोगों का इलाज- एक्जिमा में सुबह उठकर करीब 1 माह तक लार लगाने से फायदा होता है। सोरायसिस में सुबह बासी मुंह की लार 6 माह से 1 वर्ष तक, जलने के निशान पर 1-2 माह व घाव पर 5-10 दिन तक लार लगाएं। हाथ-पैरों की अंगुलियों के बीच होने वाले फंगल इंफेक्शन पर इसे रोजाना लगाएं।

आंख आने पर दो दिन तक व एलर्जी होने पर 2-3 माह तक आंखों में लार को काजल की तरह लगाएं। पेट की समस्या या कीड़े होने पर सुबह उठकर बासी मुंह पानी पीएं।

इन वजहों से मुंह में लार की कमी धूम्रपान से लार के दूषित होने या तंबाकू, खैनी, पान व जर्दा खाने से बार-बार थूकने की आदत से मुंह सूखने लगता है, जिससे यह खत्म हो जाती है। ऐसे में जरूरत से ज्यादा लार बाहर निकल जाती है। दवाओं या ड्रग आदि के प्रयोग से भी मुंह सूख जाता है और लार न के बराबर रह जाती है।

धीरे-धीरे बनाएं आदत

रोज खाली पेट पानी पीने की प्रक्रिया को वॉटर थेरेपी ट्रीटमेंट कहते हैं। रोज सुबह खाली पेट पानी पीने की प्रक्रिया वॉटर थेरेपी ट्रीटमेंट कहलाती है। पानी पीने से एक घंटे पहले और पानी पीने के एक घंटे के बाद तक और कुछ न खाएं-पिएं, ठोस आ‍हार तो भूल से भी न लें। शुरू शुरू में 1 लीटर पानी पीना थोड़ा मुश्किल होता है

लेकिन धीरे धीरे आपको इसकी आदत हो जाएगी। पहले 2 गिलास से पानी पीएं, इसके 2 मिनट बाद फिर 2 गिलास पानी पीएं। इस प्रकिया की शुरूआत करेंगे तो संभव है कि आपको एक घंटे में 2 से 3 बार पेशाब के लिए जाना पड़े लेकिन, कुछ समय बाद आपका शरीर इतने पानी का आदी हो जाएगा और आपकी यह समस्‍या भी दूर हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *